कॉलेज गर्लफ्रेंड कामिनी की पहली चुदाई collage girlfriend kamini ki pahali chudai

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम सैफ और मेरी उम्र 22 साल है। में मुंबई का रहने वाला हूँ। दोस्तों में एक बार फिर से अपनी एक और नयी घटना आप सभी के चाहने वालों के लिए लेकर आया हूँ और में आशा करता हूँ कि मेरी पिछली दो कहानियों की तरह आपको मेरी यह कहानी भी जरुर पसंद आएगी। अब ज्यादा बोर ना करते हुए में सीधे अपनी आज की कहानी पर आता हूँ। दोस्तों यह बात तब की है जब में कॉलेज में था और में उस समय अपनी पढ़ाई पूरी कर रहा था। में दिखने में बहुत अच्छा हूँ। दोस्तों में जब शुरू शुरू में कॉलेज में था तो तब तक मेरी किसी भी लड़की में ज्यादा रुची नहीं थी, लेकिन जैसे जैसे आगे के साल में पहुंचता गया तो में उनकी तरफ बहुत आकर्षित हो गया और मुझे उनसे बातें करना हंसी मजाक करना बहुत अच्छा लगने लगा था। दोस्तों उस समय मेरी क्लास में एक लड़की थी और जिसका नाम कामिनी था और वो मेरे साथ कॉलेज में पहले साल से थी और मेरी ही ब्रांच की थी तो इस वजह से मेरा उसकी तरफ बहुत ज्यादा लगाव हो गया था, वैसे पहले से ही हमारे बीच मजाक मस्ती होती रहती थी और जब हम दूसरे साल में पहुंचे तो हमे फ्रेशर ऑर्गनाइज़ करनी थी और वो डिपार्टमेंट मुझे लेना था, लेकिन पता नहीं जानबूझ कर या फिर किस्मत से कामिनी ने भी वही डिपार्टमेंट ले लिया।

दोस्तों वो दिखने में बहुत सुंदर और बिल्कुल एक गुड़िया की तरह थी। उसका फिगर 32-26-34 था और मेरे मन में उसको लेकर पहले से ही बहुत अजीब-सा आकर्षण था, क्योकि हमारी कभी इतनी कोई खास बातचीत नहीं थी, बस कभी कभी थोड़ा हंसना, मजाक करना होता रहता था, इसलिए उससे ज्यादा बताने कि मेरी कभी हिम्मत नहीं हुई, लेकिन जब फ्रेशर का टाईम आया तो हमें एक दूसरे को जानने का मौका मिला और उसके बाद अब हमारी रुची एक दूसरे में कुछ ज्यादा ही बढ़ने लगी और फिर धीरे धीरे हमारी अच्छी ख़ासी दोस्ती हो गयी थी और एक दिन उसने मुझे फ़ेसबुक पर रिक्वेस्ट भेजी। फिर हम हर रोज ऑनलाईन बातें किया करते थे। फिर एक बार एक प्रोजेक्ट में उसे मुझसे कुछ मदद चाहिए थी तो हमारे मोबाईल नंबर एक दूसरे के पास पहुंच गए और उसके बाद धीरे धीरे हमारी दोस्ती बहुत ज्यादा बड़ गयी थी। अब हम एक दूसरे से सभी बातें किया करते थे और हमारे बीच अब कोई भी बात छुपी हुई नहीं थी और फिर वो 14 फरवरी का दिन आया। हमारे कॉलेज में एक पार्टी थी और वहां पर अधिकतर सब अपने अपने जोड़े से थे और उस दिन मैंने भी मन ही मन सोचा कि क्यों ना आज में भी उससे अपने दिल की बात कह दूँ? मेरे दोस्तों ने मुझे थोड़ी सी बीयर पिला दी और जिसकी वजह से अब मुझमें थोड़ी हिम्मत आ गई।

Read More